पाठ्यक्रम विकास और मूल्यांकन केंद्र

पीएसएससीआईवीई में 2012 में स्थापित पाठ्यक्रम विकास और मूल्यांकन केंद्र, राष्ट्रीय व्यावसायिक शिक्षा योग्यता फ्रेमवर्क के अंतर्गत विद्यालयों में व्यावसायिक विषयों के लिए पाठ्यक्रम एवं कोर्सवेयर के विकास, मूल्यांकन तथा पुनरीक्षण की गतिविधियों का समन्वय, अब राष्ट्रीय कौशल योग्यता फ्रेमवर्क के रूप में जाना जाता है ;छैफथ्द्ध। केंद्र ने योग्यता आधारित पाठ्यक्रम एवं अध्ययन-अध्यापन मॉड्यूल तैयार तथा विकसित किया है। इसने 100 से अधिक पाठ्यक्रम और 200 शिक्षण-शिक्षण मॉड्यूल के विकास के लिए गतिविधियों का समन्वय किया है।

जुलाई 2013 में, मानव संसाधन विकास मंत्रालय भारत सरकार, राष्ट्रीय कौशल विकास निगम (एनएसडीसी), सेक्टर स्किल काउंसिल (एसएससी) के बीच विभिन्न गतिविधियों के समन्वय हेतु राष्ट्रीय संसाधन केंद्र के रूप में कार्य करने के लिए एक अलग छैफथ् सेल स्थापित किया गई थी) एवं राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों में माध्यमिक तथा उच्च माध्यमिक शिक्षा के व्यवसायिक रूप से प्रायोजित योजना को लागू करने वाले पश्चात्् सेल का नाम बदलकर छैफथ् सेल कर दिया गया।


ध्यानाकर्षण क्षेत्र
  1. प्रशिक्षण एवं मूल्यांकन सहित माध्यमिक और उच्चतर माध्यमिक शिक्षा के व्यवसायीकरण के कार्यान्वयन के विभिन्न पहलुओं पर दिशानिर्देश विकसित करना।
  2. व्यावसायिक शिक्षा एवं प्रशिक्षण से संबंधित मामलों में विचारों तथा जानकारी हेतु एक समाशोधन के रूप में कार्य करें।
  3. योग्यता आधारित पाठ्यक्रम प्रारूप निर्माण एवं विकास।
  4. अध्ययन-अध्यापन सामग्री विकसित करना (प्रिंट एवं गैर-प्रिंट)
  5. मूल्यांकन उपकरण का विकास
  6. ई-लर्निंग सामग्री विकसित करना
  7. व्यावसायिक विषयों के लोकप्रियकरण के लिए प्रचार सामग्री का विकास करना
सदस्य
क्रमांक नाम पद टेलीफोन (O) मोबाइल ईमेल
1. प्रो. व्हि एस मेहरोत्रा प्राध्यापक 07552704117 9424485821 drvs.mehrotra@gmail.com
2. श्रीमति सुनीता कोली कंप्यूटर ऑपरेटर ग्रेड-II 07552704143 9827738502
3. श्री राजेश यादव